अन्नू मैम

Author: 
कोमल गुर्जर

Komal Gurjar, age 12, is a Class VII student at Saloni International Academy, village Chak Charanwas, district Jaipur, Rajasthan. This is a rural, Hindi-medium school about 45 km from Jaipur city.

मैं सलोनि इंटरनेशनल एकेडमी में पढ़ती हूँ । मैं कक्षा ७ की छात्रा हूँ । मुझे अन्नू मैम बहुत अच्छी लगती हैं । वो हमें आगे बढ़ने की शिक्षा देती है । और हमें नई - नई बातों का ज्ञान देती और हमें सच्चे मन से अपनी पढ़ाई कर के आगे की आगे की ओर जाने को कहती है ।

कविता

तितली रानी , तितली रानी

मुझको दे दो अपने पर ।

पर लगाकर उड़ जाऊँ मैं

उस उजाले की ओर ,

जो मुझे अज्ञानता के अंधेरे से

दूर ले जायें ज्ञान की ओर ।

—कोमल गुर्जर, कक्षा VII, सलोनि इंटरनेशनल एकेडमी स्कूल, चाक चरणवास

Poem by Komal Gurjar on Teachers' Day

Comments

Creative!

Add new comment

Plain text

  • No HTML tags allowed.
  • Web page addresses and e-mail addresses turn into links automatically.
  • Lines and paragraphs break automatically.
CAPTCHA
This question is for testing whether or not you are a human visitor and to prevent automated spam submissions.
Image CAPTCHA
Enter the characters shown in the image.